mesure issue rojgar 2.jpg

 रोजगार

 (श्रम आधारित रोजगार ताकि अधिक से अधिक लोगो को रोजगार मिले )

(a). संविदा नियुक्ति की पूर्णतः समाप्ति.

(b). शिक्षा मित्र एवं पंचायत शिक्षकों द्वारा अब तक किये गए कार्य एवं शैक्षणिक योग्यता के आधार पर उन्हें शिक्षक एवं                     शिक्षकेत्तर  कर्मचारी के  रूप में नियुक्त  किया जायेगा.

(c). मनरेगा एवं इंदिरा आवास सहायक को पंचायत सहायक के रूप में नियुक्त किया जायेगा.

(d). कृषि मित्र एवं पशु मित्र को कृषि सहायक एवं पशु सहायक के रूप में नियुक्त किया जायेगा.

(e). आंगनवाड़ी संचालिका को बुनियादी डोला शिक्षिका के रूप नियुक्ति की  जाएगी.

(f).  पंचायत स्तर पर संविदा में नियुक्त अन्य लोगो की भी इसी प्रकार स्थायी नियुक्ति की जाएगी.

(g). 15 वर्ष की उम्र सीमा से प्रत्येक बिहारी को नियोजन कार्ड बनाना आवश्यक होगा जिसे आधार बनाकर इनके स्व-                      व्यवसाय,संगठित / असंगठित क्षेत्र के कार्य, पुश्तैनी कार्य के अनुसार पेंशन, स्वास्थ्य सुविधा, भविष्य                                           निधि,स्वास्थ्य बीमा एवं समाजिक बीमा का निर्धारण  किया  जायेगा.

(h). नियोजन कार्ड के आधार पर 30 वर्ष की आयु तक नियोजित नहीं हो पाने वाले  प्रत्येक बिहारी युवा को स्वरोजगार के लिए         समाजिक  समवर्ग  के आधार पर 1 से 10 लाख तक ऋण उपलब्ध कराया जायेगा.

(i). नगर पंचायत / नगर परिषद् एवं नगर पालिका के न्यूनतम 30 वर्ष तक के आयु  सीमा वाले बेरोजगार को प्रत्येक माह

       2300 रु. का  फ़ूड कार्ड (खाने पिने की वस्तु ) उपलब्ध कराया जायेगा.